DC vs PUNJAB मुकाबला आज : डबल हेडर के दूसरे मुकाबले में आमने सामने होंगे राहुल और पंत; नॉर्खिया की वापसी से दिल्ली की बॉलिंग लाइन अप मजबूत

IPL 2021 सीजन के पहले डबल हेडर के दूसरे मुकाबले में ऋषभ पंत की टीम दिल्ली कैपिटल्स (DC) और लोकेश राहुल की पंजाब किंग्स (PUNJAB) आमने सामने होगी। यह मैच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में शाम 7:30 बजे से खेला जाएगा। दोनों टीमों का बैटिंग लाइन अप बेहद मजबूत है। वहीं, एनरिक नॉर्खिया की कोरोना जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद वे टीम में वापसी कर सकते हैं। उन्हें टॉम करन की जगह दिल्ली टीम में शामिल किया जा सकता है। नॉर्खिया के आने से DC की गेंदबाजी को मजबूती मिलेगी। उनके पास पहले से ही कगिसो रबाडा और आवेश खान जैसे गेंदबाज मौजूद हैं।

दोनों टीमों ने इस सीजन में अपना पिछला मैच गंवाया था। दिल्ली को राजस्थान रॉयल्स, जबकि पंजाब किंग्स को चेन्नई सुपर किंग्स ने हराया था। DC और पंजाब के बीच IPL में अब तक कुल 26 मुकाबले हुए हैं। इसमें से पंजाब ने 15 और DC ने 11 मैच में जीत हासिल की।

RR के खिलाफ पिछले मैच में पंत ने खराब फैसले लिए
दिल्ली टीम की बात करें तो RR के खिलाफ बतौर कप्तान पंत के पास अनुभव की कमी साफ झलकी थी। उन्होंने टीम के बेस्ट बॉलर रविचंद्रन अश्विन से सिर्फ 3 ओवर कराए। अश्विन ने 3 ओवर में सिर्फ 14 रन दिए थे। उनकी जगह पंत ने टॉम करन को गेंदबाजी दी। करन ने 3.4 ओवर में 35 रन लुटाए थे। मैच के बाद दिल्ली के कोच रिकी पोंटिंग ने कहा था कि अगले मैच में वे पंत से ऐन मौके पर बेहतर निर्णय लेने की उम्मीद कर रहे हैं।

दिल्ली के दोनों ओपनर्स धवन और पृथ्वी शानदार फॉर्म में
दिल्ली के पास शिखर धवन और पृथ्वी शॉ के रूप में दो बेहतरीन ओपनर्स हैं। हालांकि, RR के खिलाफ यह दोनों कुछ खास नहीं कर सके थे। पर अब तक धवन ने 2 मैच में 94 रन और पृथ्वी ने इतने ही मैच में 74 रन बनाए हैं। इसके अलावा दिल्ली टीम में अजिंक्य रहाणे के रूप में अनुभवी बल्लेबाज भी है। पंत फिलहाल शानदार फॉर्म में हैं। वे RR के खिलाफ फिफ्टी लगाने वाले दिल्ली के इकलौते बल्लेबाज थे। दिल्ली टीम मार्कस स्टोइनिस की जगह स्टीव स्मिथ को प्लेइंग-11 में शामिल कर सकती है।

नॉर्खिया और रबाडा ने पिछले सीजन में कहर बरपाया था
लोअर ऑर्डर में डेब्यूटांट ललित यादव और क्रिस वोक्स भी अच्छी बैटिंग कर सकते हैं। दिल्ली की टीम ने इसी सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ 188 रन का टारगेट आसानी से चेज किया था। वहीं, नॉर्खिया के आने से दिल्ली की गेंदबाजी को और मजबूती मिली है। नॉर्खिया ने पिछले सीजन में रबाडा का बखूबी साथ निभाया था। उन्होंने 16 मैच में 22 विकेट लिए थे। जबकि, रबाडा ने 17 मैच में 30 विकेट लिए थे और टूर्नामेंट के सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज थे।

CSK के खिलाफ पिछले मैच में पंजाब का टॉप ऑर्डर फेल हुआ
वहीं, पंजाब की टीम क्रिस गेल, लोकेश राहुल, मयंक अग्रवाल और निकोलस पूरन जैसे बिग हिटर्स के रहते CSK के खिलाफ पिछले मैच में 106 रन पर लुढ़क गई थी। पंजाब की आधी टीम तो 26 रन पर ही आउट हो गई। राहुल 5 रन, मयंक शून्य, गेल 10 रन, दीपक हूडा 10 रन और पूरन शून्य पर पवेलियन लौटे।

CSK के तेज गेंदबाज दीपक चाहर को मिले एक्स्ट्रा बाउंस और सीम के आगे पंजाब का टॉप ऑर्डर नहीं टिक सका। यह वही पंजाब टीम थी, जिसने इसी सीजन में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ 221 रन का विशाल टारगेट दिया था। CSK की तुलना में दिल्ली की गेंदबाजी कहीं बेहतर है।

अर्शदीप अपना सकते हैं उनादकट वाली स्ट्रैटजी
मुंबई की वानखेड़े पिच पर अब तक हुए मैच में तेज गेंदबाजों को मदद मिली है। ऐसे में लोकेश राहुल vs क्रिस वोक्स, क्रिस गेल vs रबाडा, पृथ्वी vs मोहम्मद शमी और धवन vs अर्शदीप सिंह की टक्कर देखने को मिल सकती है। RR के जयदेव उनादकट ने दिल्ली के टॉप ऑर्डर को तहस नहस करके रख दिया था। ऐसे में अर्शदीप सिंह धवन और पृथ्वी के खिलाफ वही स्ट्रैटजी अपना सकते हैं।

पूरन की जगह मोइसेस हेनरिक्स को मिल सकती है जगह
पंजाब के लिए ओपनर मयंक अग्रवाल ने कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया है। वहीं, मिडिल ऑर्डर में निकोलस पूरन भी आउट ऑफ फॉर्म हैं। ऐसे में पूरन की ऑलराउंडर मोइसेस हेनरिक्स को मौका मिल सकता है। हेनरिक्स बल्ले के साथ-साथ गेंदबाजी में भी रोल अदा कर सकते हैं।

एम अश्विन की जगह बिश्नोई को मिल सकती है स्पिन की कमान
CSK के खिलाफ पंजाब के गेंदबाज शमी, जे रिचर्ड्सन और राइली मेरिडिथ ने कसी हुई गेंदबाजी की थी। 107 रन के आसान टारगेट को भी CSK ने 4 विकेट गंवाकर हासिल किया था। पंजाब की टीम मुरुगन अश्विन की जगह रवि बिश्नोई को टीम में शामिल कर सकती है।

पिच रिपोर्ट
वानखेड़े में 2019 में यहां 7 मैच खेले गए थे। इनमें से 6 बार पहले बैटिंग करने वाली टीम ने 160 रन से ऊपर का स्कोर बनाया था। 3 बार तो 185 से ऊपर का स्कोर बना। दिल्ली कैपिटल्स टीम अधिक आक्रामक अंदाज में खेलती है और यहां की पिच उसके खिलाड़ियों के बैटिंग स्टाइल के अधिक अनुकूल हो सकती है।

2019 में यहां 7 में से 4 में बाद में बल्लेबाजी करने वाली टीम जीती। 2 में पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम को जीत मिली। एक मैच टाई रहा था। इस सीजन में वानखेडे़ में हुए 4 मैचों में फास्ट बॉलर्स ने 46 विकेट लिए हैं। लिहाजा एक बार फिर टीमों का भरोसा तेज गेंदबाजों पर ही हो सकता है। टॉस जीतने वाली टीम पहले फील्डिंग का फैसला कर सकती है।

  • वानखेड़े में कुल टी-20 मैच : 75
  • पहले बैटिंग करने वाली टीम जीती : 37
  • टारगेट चेज करने वाली टीम जीती : 38
  • हाईएस्ट फर्स्ट इनिंग स्कोर : 235/1 रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु VS मुंबई इंडियंस, 2015
  • लोएस्ट फर्स्ट इनिंग स्कोर : 67 कोलकाता नाइट राइडर्स VS मुंबई इंडियंस, 2008
  • हाईएस्ट सक्सेसफुल रन चेज : 198/7 मुंबई इंडियंस VS पंजाब किंग्स, 2019
  • एवरेज फर्स्ट इनिंग स्कोर : 168

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *